Friday, 3 May 2013

हाइकू/ बचपन


1
ये बचपन
परी, तितली, कथा
सुन्दर मन!

2
कोमल काया
छल, कपट
दंभ माया।

3
मां का आंचल
प्यार और दुलार
सदा चंचल।

4
चंदा है मामा
गुड़िया है सहेली
झबला जामा।

5
सब अपने
आकर्षक मुस्कान
देखे सपने।

6
दूषित धरा
मेरे लिए क्या बचा
दूषित हवा।

7
महुआ क्या है?
किस जहां की बातें
पपीहा क्या है?
           - बृजेश नीरज


कृपया ध्यान दें

इस ब्लाग पर प्रकाशित किसी भी रचना का रचनाकार/ ब्लागर की अनुमति के बिना पुनः प्रकाशन, नकल करना अथवा किसी भी अन्य प्रकार का दुरूपयोग प्रतिबंधित है।

ब्लागर